Thursday, August 6, 2009

मिट माइ फ्रैंड अविरल

कल जब मैं देर से शाम को जगी तो गार्डन में मम्मी के साथ अकेले ही जाना पड़ा, वहा एक बहुत ही शैतान लड़का मिला। वो मुझे झुला नही दे रहा था । जब मैंने उसे अपने दोस्त अविरल की फोटो दिखाई तो बोला- पहले बोलना था की तुम अविरल की दोस्त हो।

ठीक किया न ......

1 comment:

kumar said...

aviral ke photo ki jagah apne mama ka naam bata deti to vo ladka jhula to kya pura garden hi khali kar deta